लखनऊः लोगों को डराकर शासन चलाना चाहती भाजपा सरकारः अखिलेश यादव

Lucknow: BJP government wants to scare people, Akhilesh Yadav share via Whatsapp

Lucknow: BJP government wants to scare people, Akhilesh Yadav



शीरोज कैफे में एसिड पीड़िताओं से मिले अखिलेश यादव, व डिंपल यादव


वरिष्ठ पत्रकार, अशफाक खाँ,लखनऊः
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री उत्तरप्रदेश अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार लोगों को डराकर शासन चलाना चाहती है। उन्होने कहा कि भाजपा सरकार को लोगों के दुख दर्द से कोई लेना देना नही है। अखिलेश यादव व उनकी पत्नी डिंपल यादव यहां पर गोमती नगर स्थित शीरोज कैफे में एसिड अटैक पीड़ितों से मुलाकात करने के बाद संबोधित कर रहे थे। यहां उन्होंने पीड़िताओं की समस्याएं सुनकर उन्हें मदद का भरोसा दिलाया। अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार डरा धमकाकर लोगों को डराकर शासन चलाना चाहती है। इस सरकार को गरीबों और जरूरतमंदों के दुख-दर्द से कोई वास्ता नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि सरकार शीरोज कैफे चलाने वाली एसिड अटैक पीड़िताओं की बात सुने और उनकी मदद करे। उन्होने कहा कि अगर सपा सरकार होती तो यह समस्या ही नहीं आती। पूर्व सीएम ने कहा कि सरकार यह जगह तो छीन सकती है लेकिन शीरोज कैफे को बंद नहीं कर सकती है। जरूरत पड़ी तो समाजवादी लोग एसिड पीड़ितों की मदद करेंगे। अखिलेश यादव ने कहा कि जो लोग इस कैफे की जगह पर रेस्टोरेंट खोलना चाहते हैं, मैं उनसे कहना चाहता हूं कि वह बगल वाली बिल्डिंग जेपीएनआईसी में टेंडर के जरिए रेस्टोरेंट हासिल करें। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को सरकार आगरा एक्सप्रेस वे के किनारे भी रेस्टोरेंट खुलवा सकती है लेकिन पीड़िताओं को परेशान न करे। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता इस सरकार से बहुत परेशान हो चुकी है। अब बस लोगों को चुनाव का इंतजार है। शिरोज में 45 मिनट तक अखिलेश और डिंपल ने एसिड अटैक पीड़िताओं से बातचीत की। उनके साथ सपा के मुख्य प्रवक्ता पूर्व मंत्री राजेंद्र चौधरी, जूही सिंह समेत अन्य नेता भी थे। मालूम हो कि डॉ. भीमराव अंबेडकर परिवर्तन स्मारक परिसर में महिला कल्याण निगम द्वारा संचालित शीरोज हैंगआउट कैफे को बंद कराने का आदेश दिया गया था। हालांकि, बाद में महिला कल्याण मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी ने शीरोज बंद नहीं होने की पुष्टि की। मंत्री ने कहा कि इसका संचालन करने वाले एनजीओ छांव फाउंडेशन की अनियमितता छिपाने के लिए भ्रामक खबरें फैलाई जा रही हैं। सूत्रों का कहना है कि इसका नए सिरे से नाम बदलकर निगम ही संचालन करेगी या किसी अन्य विकल्प की भी तलाश की जाएगी। जल्द ही इस मुद्दे पर फैसला कर लिया जाएगा।

Lucknow: BJP government wants to scare people, Akhilesh Yadav
Source: INDIA NEWS CENTRE

Leave a comment